IMA Strike Agra: आगरा में निजी क्षेत्र में 24 घंटे के लिए चिकित्सीय इमरजेंसी सेवाएं बंद, आपातकाल में यहां करा सकते हैं इलाज

1.3kViews

आगरा

राजस्‍थान के दौसा में महिला डाक्टर की खुदकुशी प्रकरण में आगरा के 1450 निजी अस्पताल, क्लीनिक, पैथोलाजी, इमेजिंग सेंटर आदि गुरुवार सुबह छह से शुक्रवार सुबह छह बजे तक हड़ताल पर रहेंगे। चिकित्सक भी मरीजों का इलाज नहीं करेंगे। 24 घंटे के लिए इमरजेंसी सेवाएं भी ठप रहेंगी। कोई नया मरीज भर्ती नहीं किया जाएगा। गुरुवार सुबह से प्राइवेट अस्‍पतालों और पैथोलॉजी लैब बंद कर दी गई हैं। हालांकि सरकारी अस्‍पतालों में स्‍वास्‍थ्‍य सेवाएं सुचारू हैं। प्राइवेट अस्‍पतालों के बंद रहने से लोग एसएन मेडिकल कॉलेज पहुंच रहे हैं।

राजस्थान के दौसा के लालसोट स्थित आनंद हास्पिटल में डिलीवरी के बाद प्रसूता के ब्लीडिंग होने लगी और उसकी मौत हो गई। इस मामले में हास्पिटल में हंगामे के बाद पुलिस ने हास्पिटल संचालक डा. अर्चना शर्मा के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया। इससे घबराकर डा. अर्चना शर्मा ने खुदकुशी कर ली। इस मामले पर देश भर के चिकित्सकों में रोष है। चिकित्सक इंटरनेट मीडिया पर भी अपना आक्रोश व्यक्त कर रहे हैं।

तोता का ताल स्थित आइएमए भवन पर बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में निर्णय लिया गया है कि गुरुवार सुबह छह बजे से शुक्रवार सुबह छह बजे तक सभी प्राइवेट चिकित्सक हड़ताल पर रहेंगे। इमरजेंसी सेवाएं भी ठप रहेंगी, कोई नया मरीज भर्ती नहीं किया जाएगा। आगरा के सभी प्राइवेट हास्पिटल, क्लीनिक, पैथोलाजी लैब, इमेजिंग सेंटर 24 घंटे के लिए बंद रहेंगे। बैठक में आइएमए के अध्यक्ष डा. राजीव उपाध्याय, पूर्व अध्यक्ष डा. रवि मोहन पचौरी, सचिव डा. अनूप दीक्षित सहित बड़ी संख्या में एकत्रित हुए चिकित्सकों ने जनरल बाडी मीटिंग में हड़ताल पर जाने का निर्णय लिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here