आगरा के ग्रामीण क्षेत्र में आकार लेगा जन जीवन मिशन, मिलेगा गंगाजल और बनेंगी 21 सड़कें भी

1.1kViews

आगरा

जिले के शहरी क्षेत्र के बाद अब ग्रामीण क्षेत्र को भी जल्द ही गंगाजल नसीब होगा। इसके लिए 6779.5 करोड़ रुपये की लागत वाली योजना तैयार हो चुकी है। दो वर्षों में योजना पूरी कर ग्रामीण क्षेत्र के हर घर में नल से गंगाजल पहुंचाने की तैयारी है। इसके साथ ही 100 करोड़ की लागत से प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना में फतेहपुर सीकरी क्षेत्र की 21 सड़कें तैयार होंगी। शुक्रवार को यह जानकारी क्षेत्रीय सांसद और भाजपा किसान मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजकुमार चाहर ने दी।

संजय प्लेस स्थित होटल पीएल पैलेस में पत्रकारों से वार्ता में उन्होंने बताया कि जिले डार्क जोन में होने की जानकारी देकर उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से पानी की समस्या का स्थायी समाधान करने की मांग की थी। इसके बाद उन्होंने मुझे न सिर्फ जल शक्ति मंत्रालय की परामर्शदात्री समिति का सदस्य बनाया, बल्कि आगरा, मथुरा और फिरोजाबाद के कुछ प्रभावित ब्लाक को जल जीवन मिशन की पहले चरण की योजना में शामिल किया। इसके तहत चार हजार करोड़ की डीपीआर बनाकर नरौरा से टूंडला के नारखी तक गंगाजल को लाया जाएगा। फिर 2779.5 करोड़ से ग्रामीण क्षेत्रों तक पाइपलाइन से गंगाजल हर घर तक पहुंचाया जाएगा।पूरी योजना 6779.5 करोड़ रुपये खर्च होंगे। इसके लिए 10 जून को टेंडर जारी होंगे और काम शुरू हो जाएगा। योजना पूरी करने के लिए दो साल का समय तय किया जाएगा।

हर घर में नल से गंगाजल पहुंचाने के साथ अमृत सरोवर योजना के तहत जिले में 150 कुंड बनाए जाएंगे, जिनमें वर्षा जल संचयन की योजना है। इसे प्रभावी बनाने के लिए लोगों को भी जोड़ा जाएगा। साथ ही ग्रामीण क्षेत्र के कुंओं, बाबड़ी और तालाबों का भी संरक्षण कराकर पानी की समस्या का निस्तारण किया जाएगा।

भाजपा की केंद्रीय सरकार अपने आठ वर्ष पूरे करके कई उपलब्धियां प्राप्त कर चुकी हैं। इसमें ग्रामीण क्षेत्रों में सड़कों का जाल बिछाया जा रहा है। फतेहपुर सीकरी क्षेत्र में प्रधानमंत्री ग्राम स़ड़क योजना में 100 करोड़ की लागत से 177.74 किमी की 21 सड़कें तैयार की जाएंगी। इसमें अकोला, बाह, सैंया, फतेहाबाद, जगनेर, अछनेरा, फतेहपुरसीकरी, शमसाबाद, खेरागढ़ ब्लाक के गांवों की सड़कें तैयार की जाएंगी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here