आगरा में परिसीमन बदला तो बदल गए कई दिग्गजों के मैदान, साथ ही बदले जातिगत समीकरण भी

- Advertisement -

आगरा

विधानसभा सीटों का अब तक कई बार परिसीमन हो चुका है। ऐसे में दिग्गजों को अपना चुनावी मैदान भी बदलना पड़ा है। आखिरी बार 2012 में विधानसभा क्षेत्रों का परिसीमन हुआ था। इसमें आगरा ग्रामीण (एससी), आगरा दक्षिण और आगरा उत्तर सीट अस्तित्व में आई।

परिसीमन बदलने से कई सीटों पर जातिगत समीकरण भी बदले। इससे उनकी जीत के समीकरण में बदल गए। ऐसे में दिग्गजों को मैदान बदलना पड़ा। 2022 के चुनाव के लिए चुनावी मैदान तैयार है। कई दिग्गज अपनी किस्मत आजमाने मैदान में उतरे हुए हैं। आजादी के बाद पहली बार 1952 में विस चुनाव हुआ। तब जिले में आठ विधानसभा सीटें थीं। फिरोजाबाद विस सीट तब फतेहाबाद का हिस्सा हुआ करती थी। अगले ही चुनाव में एक सीट कम हो गई। वर्तमान में नौ विधानसभा क्षेत्र हैं। इसमें से आगरा छावनी और आगरा ग्रामीण आरक्षित हैं।

1952 परिसीमन

किरावली, खेरागढ़, आगरा सिटी उत्तर, आगरा सिटी पश्चिम, आगरा, एत्मादपुर-आगरा पूर्वी, फतेहाबाद-फिरोजाबाद व बाह।

1957 परिसीमन

फतेहपुर सीकरी, खेरागढ़, आगरा सिटी प्रथम, आगरा सिटी द्वितीय (एससी), एत्मादपुर (एससी), फतेहाबाद और बाह।

1962 परिसीमन

एत्मादपुर दक्षिण, एत्मादपुर उत्तर (एससी), बाह, फतेहाबाद, खेरागढ़, आगरा प्रथम, आगरा सिटी द्वितीय, आगरा ग्रामीण (एससी), फतेहपुर सीकरी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here