40 लाख के भ्रष्टाचार के लगाए सचिव पर आरोप

- Advertisement -

रतलाम जिले के गांव सूजापुर में सीसी रोड से लेकर मुरम रोड तक प्रधानमंत्री आवास योजना के कुएं के निर्माण से लेकर तो मनरेगा की आय की समस्त जानकारी तक लंबे समय से गुहार लगाते हुए दस्तावेज लेकर फरियादी पहुंचा जनसुनवाई में वह बताया गया कि मैंने सूचना के अधिकार के तहत मांगी गई प्रमाणित प्रति के बदले मैं जमा कराई गई राशि कुल पेज 2668 जमा की गई राशि 5336 इसके बदले 327 पेज प्रदान किए गए शेष जानकारी मांगने पर झूठे केस में फसाने का कहां गया इसी को लेकर जब फरियादी ने शिकायतें करने के बाद मीडिया को बताया कि सचिव द्वारा 327 पेज की नकल प्रदान की और उसमें चाही गई समस्त जानकारी प्रदान ना करते हुए मात्र कुवे की सूची जो अधूरी होकर एवं अधूरे बिल की प्रति प्रदान की वह अपने पद का दुरुपयोग करते हुए मुझे डराया धमकाया वही ग्राम पंचायत सचिव का कहना है कि सूचना के तहत जानकारी दे दी गई है और जो राशि हित ग्रह ने जमा की गई थी उसके एवज में 624 रुपए के चलते ₹654 की रसीद काट कर देना है और बाकी पैसा लौटाना है वहीं सचिव द्वारा बताया गया कि मुझ पर लगे आरोप निराधार है पर एक और ग्राम वासियों का कहना है कि पहले भी सचिव भ्रष्टाचार के मामलों में लिप्त पाए जाने पर सस्पेंड रह चुके हैं और हमारे गांव के हालात कुछ ऐसे कर दिए हैं की हमारे गांव की बड़ी ही दयनीय स्थिति है कोई अधिकारी सुध लेने को तैयार नहीं

रतलाम जावरा सूजापुर

सांसद विधायक के गांव में कुछ ऐसे हालात जनता ने 40 लाख के भ्रष्टाचार के लगाए सचिव पर आरोप पूर्व में भी सचिव हो चुके हैं सस्पेंड

बाइट सुजापुर सचिव तेज सिंह सिसोदिया

बाइट अरविंद सेन फरियादी

बाइट ग्रामीण आमजन

रतलाम ब्योरो रिपोर्ट इरफान खान

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here