सिंह राशि के लिए तनावपूर्ण हो सकता है आने वाला समय।

3.7kViews

अंगारक योग कुंडली में मंगल और राहु का एक ज्योतिष योग है और अंगारक योग वैदिक ज्योतिष में प्रचलित इसकी परिभाषा के अनुसार, यदि किसी कुंडली में राहु मंगल के साथ संबंध बनाता है, या तो स्थान के कारण या पहलू के कारण, अंगारक योग कहा जाता है कुंडली में बन रहा है जिसका अर्थ है कि यदि कुंडली के एक ही घर में राहु और मंगल हों या राहु और मंगल एक दूसरे पर परस्पर दृष्टि रखते हों, तो कुंडली में अंगारक योग बनता है।

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, मंगल ग्रह बीती 27 जून को मेष राशि में प्रवेश कर गए हैं और वे 10 अगस्त तक उसी में विराजमान रहेंगे। चूंकि मेष राशि में पहले से राहु विराजमान है। ऐसे में मंगल और राहु की युति बनी हुई है। ऐसे में यह अंगाकर योग कुछ राशियों के लिए अशुभ माना जा रहा है। आइए जानते हैं कि राहु-मंगल से बनने वाला अंगारक योग किन राशि क जातकों के लिए अशुभ हो सकता है।

वृष राशि: वृष राशि के बारहवें भाव में अंगारक योग बन रहा है। ऐसे में इस दौरान आपके खर्चे बढ़ने की संभावना है, जिससे आपकी आर्थिक योजना बेकार हो सकती है। इसके अतिरिक्त, आप अपने भाई-बहनों से बेवजह बहस कर सकते हैं। ऐसी स्थिति में आपको धीरे से बात करनी चाहिए। इस बात की संभावना है कि आपके विरोधी कुछ साजिश रचेंगे। इसके अतिरिक्त, आपको सलाह दी जाती है कि आप काम में सावधानी बरतें और इस दौरान कोई भी महत्वपूर्ण व्यावसायिक निर्णय लेने से बचें, क्योंकि इसमें आप असफल हो सकते हैं।

सिंह राशि: सिंह के नवम भाव में अंगारक योग विकसित हो रहा है। ऐसे में इस समय भाग्य आपका साथ नहीं देगा। आपका जीवन और अधिक तनावपूर्ण हो सकता है। कोई महत्वपूर्ण यात्रा जिसकी आप योजना बना रहे थे, चाहे वह विदेश में हो या नहीं, कुछ चुनौतियां भी प्रदान कर सकती हैं। वाहन चलाते समय अतिरिक्त सावधानी की आवश्यकता है। इसके अलावा अपने स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखने की भी सलाह दी जाती है क्योंकि आंतों की समस्या गंभीर जटिलताएं पैदा कर सकती है।

तुला राशि: आपके पंचम भाव में तुला राशि के लिए अंगारक योग बन रहा है। ऐसी परिस्थिति में आपके लिए वैवाहिक विफलता का अनुभव होने की संभावना बहुत अधिक है। उच्च शिक्षा छात्रों के लिए कुछ चुनौतियां पेश कर सकती है । इस समय संभावना है कि आप परिवार और प्रियजनों के साथ बहस और लड़ाई कर सकते हैं। व्यापार करते समय और काम पर बेहद सतर्क रहें। आपकी वाणी और क्रोध के कारण आपको बहुत सारी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here