आगरा के रामबाबू पराठे वाले की पत्‍नी की होगी मदद, राज्‍य महिला आयोग ने लिया संज्ञान

- Advertisement -

आगरा

एसएन मेडिकल कॉलेज में भर्ती आगरा के नामचीन ब्रांड रामबाबू पराठे वाले की पत्नी सुमित्रा खंडेलवाल और बेटे रिंकू को आर्थिक मदद का इंतजार है। गुरुवार को डाक्टरों ने बेटे के कूल्हे का आपरेशन कर दिया। उसे सही होने में अभी कई सप्ताह लगेंगे। वही, मामले में राज्य महिला आयोग की सदस्य निर्मला दीक्षित ने संज्ञान लेते हुए डीएम से रिपोर्ट मांगी है।

शहर के नामचीन रामबाबू पराठे वाले की पत्नी तीन दशक से अधिक समय से आर्थिक तंगी से जूझ रही हैं। सुमित्रा खंडेलवाल के पति रामबाबू पराठे वाले की वर्ष 1983 में मौत हो गई थी। जिसके बाद परिवार ने वर्ष 1986 में बंटवारा कर दिया था। वह तीन वर्ष से गांधी नगर में मुन्नी देवी के यहां रह रही हैं। मुन्नी देवी का परिवार उनका पूरा खर्चा उठा रहा है।

मुन्नी देवी के भतीजे राम कुशवाहा ने बताया कि सुमित्रा देवी और उनके पुत्र को अभी भी मदद का इंतजार है। जिससे कि वह अपने बेटे का इलाज कराने के साथ ही सामान्य जीवन जी सकें। परिवार की मदद के लिए प्रशासन के अधिकारियों को भी लिखा गया है। इसके अलावा कई राजनीतिक लोगों से भी गुहार लगाई है।

रामबाबू पराठे वाले के पुत्र रिंकू का दो सप्ताह पहले संजय प्लेस में हादसे में कूल्हे की हड्डी टूट गई थी। जिसके बाद उसे एसएन की नई सर्जरी बिल्डिंग में भर्ती कराया गया। आर्थिक तंगी से जूझ रहा परिवार किसी तरह अपना इलाज करा रहा है।

हालांकि सुमित्रा खंडेलवाल के भतीजे चंद्रमोहन खंडेलवाल ने मंगलवार को उन्हें 15 हजार रुपये की आर्थिक मदद दी थी। इसके बाद कोई मदद को आगे नहीं आया है। वहीं, मामले को राज्य महिला आयोग की सदस्य निर्मला दीक्षित ने संज्ञान में लेते हुए डीएम से रिपोर्ट मांगी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here