अगरबत्‍ती के धुंंए से बेहोश कर करते हैं लूटपाट, ईरानी गैंग के सदस्‍य से पूछताछ में निकलेंगे कई राज

990Views

आगरा
काेतवाली के व्यस्त सेव का बाजार में कारोबारी के कर्मचारी से 27 किलोग्राम चांदी लूटने का आरोपित ईरानी गैंग का सदस्य दो दिन पुलिस रिमांड पर रहेगा। आरोपित को नागपुर पुलिस ने दबोचा था। उसे वहां से आगरा पुलिस ट्रांजिट रिमांड पर लेकर आई थी। आरोपित से लूट माल बरामद करने के लिए पुलिस ने अदालत में रिमांड के लिए प्रार्थना पत्र दिया था। जिस पर अदालत ने गुरुवार की सुबह सात बजे से शनिवार की सुबह सात बजे तक की रिमांड स्वीकृत की है।

बल्केश्वर निवासी सौरभ के साथ 11 नवंबर 2021 को गैंग ने वारदात की थी। वह कोतवाली के जयशिव प्लाजा से चांदी की पायल लेकर दूसरी दुकान पर जा रहे थे। रास्ते में एक बाबा ने उन्हें अपने जाल में फंसा लिया। उनके चेहरे पर अगरबत्ती जलाकर घुमाई। जिसके बाद सौरभ अपनी सुधबुध खो बैठे। कुछ देर बाद सामान्य हुए तो चांदी की पायल से भरा थैला गायब था।

पुलिस ने बाजार में लगे सीसीटीवी कैमरों के फुटेज चेक किए। जिससे पता चला कि घटना में चार लोग शामिल थे। सीसीटीवी कैमरों की मदद से पुलिस को आरोपितों का रूट पता चला। चारों भगवान टाकीज के पास एक होटल में ठहरे थे। उन्होंने कमरा लेने के लिए अपनी आइडी दी थी। जिससे एक आरोपित सलीम अली की पहचान हुई थी। कोतवाली पुलिस ने नागपुर जाकर आरोपितों के वारंट संबंधित थाने को देकर आई थी।

इंस्पेक्टर कोतवाली सुभाष चंद पांडेय ने बताया कि आरोपित सलीम अली निवासी कामठी, नागपुर जिला जेल में बंद है। उसे 27 फरवरी को जेल भेजा गया था।

इंस्पेक्टर कोतवाली ने बताया कि कामठी, नागपुर निवासी सलीम अली आगरा जेल में बंद है। उसे नागपुर पुलिस ने पकड़कर सौंपा था। वह 27 फरवरी को जेल भेजा गया था। विवेचक ने आरोपित को रिमांड पर लेने के लिए प्रार्थना पत्र दिया था। वरिष्ठ अभियोजन अधिकारी विनोद यादव के तर्क के आधार पर अदालत ने दो दिन की रिमांड स्वीकृत की है। आरोपित ने बताया था कि उसने दिल्ली में चांदी बेची थी। माल बरामदगी के लिए उसे रिमांड पर लेना जरूरी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here