गम में बदल सकती है त्योहारों की ख़ुशी ! पढ़े पूरी खबर

3.5kViews

देश में कोरोना महामारी की दूसरी लहर अब भी जारी है। राहत की बात यह है कि एक हफ्ते से रोजोना नए मामलों का आंकड़ा 30 हजार से नीचे रह रहा है। हालांकि, आगे त्योहारों का सीजन है जो कमजोर पड़ रही महामारी को रफ्तार दे सकता है जिससे तीसरी लहर भी आ सकती है। राजधानी दिल्ली स्थित अखिल भारतीय आर्युविज्ञान संस्थान (AIIMS) के डायरेक्टर डॉक्टर रणदीप गुलेरिया ने इसके प्रति आगाह किया है। उन्होंने कहा कि अगले 6 से 8 हफ्ते बहुत ही अहम हैं। अगर तबतक पहले जैसे ही एहतियात नहीं बरते गए और लापरवाही हुई तो स्थिति बिगड़ सकती है और ऐसा नहीं हुआ तो तो डेली कोरोना केस और भी कम होंगे।

त्योहारों को लेकर एम्स डायरेक्टर की चेतावनी
गुलेरिया ने कहा, ‘त्योहारी सीजन में हमें सतर्क और सावधान रहना होगा। अगर हम अगले 6-8 हफ्ते सतर्क बने रहे तो कोरोना के मामलों में गिरावट देख सकते हैं।’ एम्स डायरेक्टर की यह चेतावनी इसलिए भी अहम है कि त्योहारों के दौरान बाजारों में भीड़भाड़ बहुत हो जाती है जो वायरस के फैलने के लिए सबसे मुफीद होता है। अगले एक-दो महीनों में दशहरा, दिवाली, छठ, क्रिसमस जैसे कई त्योहार हैं।

अभी कोरोना पर राहत
भारत में शुक्रवार को पिछले 24 घंटों में कोरोना संक्रमण के 26,727 नए मामले सामने आए। इस दौरान 28,246 मरीज स्वस्थ हुए और 277 मरीजों की कोरोना से मौत हुई। ये आंकड़े केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से जारी हेल्थ बुलेटिन में दिए गए हैं। देश में अभी कोरोना के ऐक्टिव केस 275224 हैं। यह कुल मामलों का 0.82 प्रतिशत है जो पिछले 196 दिनों में सबसे कम है।

महामारी को लेकर हर मोर्चे पर खुशखबरी
कोरोना महामारी से भारत की रिकवरी दर अब 97.86 प्रतिशत हो गई है जो मार्च 2020 के बाद से सबसे अधिक है। पिछले 32 दिनों से डेली पॉजिटिविटी रेट 3 प्रतिशत से कम और लगातार 115 दिनों तक 5 प्रतिशत से कम रही है। पिछले 24 घंटों में 64,40,451 वैक्सीन खुराक के देने के साथ, भारत का कुल कोविड टीकाकरण कवरेज 89,02,08,007 तक पहुंच गया है। यह उपलब्धि 86,46,674 सत्रों के माध्यम से हासिल की गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here