ताज देखने आए विदेशी पर्यटक फंसे Lockdown में, ऐसे गुजार रहे हैं दिन

- Advertisement -

ताजनगरी में अतिथि देवो भव की लाज बुधवार को पर्यटन संस्था और पुलिस ने बचाई। ताजनगरी फेज-दो स्थित होटल में रुके विदेशी मेहमानों ने दो दिन से खाना नहीं मिलने पर मदद की गुहार लगाई थी। पुलिस ने उनके लिए भोजन का प्रबंध कराया। वहीं, डीएम प्रभु एन. सिंह ने पर्यटन विभाग को तीनों विदेशी पर्यटकों के लिए उचित इंतजाम कराने के निर्देश दिए।

कोरोना वायरस के कारण लगे लॉकडाउन का खामियाजा विदेशी पर्यटकों को भी चुकाना पड़ रहा है। ताजमहल देखने की हसरत लिये भारत आए कुछ विदेशी पर्यटक लॉकडाउन के दौरान खाने के लिए भी तरस गए।

ताजनगरी फेज-दो स्थित वीरेन रेजीडेंसी में 24 मार्च को पर्यटन पुलिस ने प्रशासनिक अधिकारियों के निर्देशों पर दो फ्रांसीसी पर्यटकों को रुकवाने की व्यवस्था कराई थी। इनमें क्विनोंस पेड्रोजा अलेजांद्रो लास्लो परेशान होकर पर्यटन थाना पहुंचे थे, जबकि तालियाना आगरा कैंट स्टेशन पर बैठी रो रही थीं। दोनों का स्वास्थ्य परीक्षण कराया गया था और उनकी रिपोर्ट नेगेटिव आई थी। इन दोनों के साथ म्यांमार की म्या क्याय मैन भी थीं। मंगलवार को उन्हें केवल चाय-बिस्कुट पर गुजर-बसर करनी पड़ी और बुधवार को भी कुछ खाने को नहीं मिला। इसकी जानकारी वाट्सएप ग्रुप में वायरल हुई तो बुधवार शाम आगरा टूरिज्म डवलपमेंट फाउंडेशन के अध्यक्ष संदीप अरोड़ा वीरेन रेजीडेंसी पहुंचे। पर्यटकों ने उन्हें अपनी समस्या बताई और पैसे खत्म होने की जानकारी दी। उन्होंने बसई चौकी प्रभारी को इससे अवगत कराया। बसई चौकी प्रभारी मनोज भाटी तत्काल वहां पहुंचे और पर्यटकों के लिए खाने का इंतजाम कराया। डीएम प्रभु एन. सिंह को भी पूरे वाकये से अवगत कराया गया। इस पर डीएम ने पर्यटन विभाग को विदेशी पर्यटकों के लिए उचित इंतजाम कराने के निर्देश दिए। इसके बाद पर्यटन विभाग द्वारा रेजीडेंसी संचालक से संपर्क साधकर व्यवस्था करने को कहा गया। गुरुवार को उन्हें दूसरे होटल में रुकवाने की व्यवस्था की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here