‘आठ महीने पहले नेहा के परिवार ने मुझे फोन…’ बेटा के अपराध से दुखी पिता ने की सरकार से ये अपील

- Advertisement -

हुबली

कर्नाटक के हुबली स्थित बीवीबी कॉलेज कैंपस में गुरुवार (18 अप्रैल) को कांग्रेस पार्षद निरंजन हिरेमथ की 23 साल की बेटी नेहा हिरेमथ की चाकू मारकर हत्या कर दी गई थी। नेहा एमसीए फर्स्ट ईयर की छात्रा थीं। उसी कॉलेज के एक ड्रॉपआउट स्टूडेंट फैयाज खोंडुनाईक (23) ने नेहा के गले, पेट सहित शरीर पर चाकू से 7 हमले किए। घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आया है, जिसमें फैयाज नेहा पर हमला करता हुआ दिखा था।

इस घटना को लेकर सियासत भी काफी तेज हो चुकी है। भाजपा ने लव जिहाद का आरोप लगाते हुए सिद्धारमैया सराकर को घेरा है। वही, कर्नाटक सरकार ने इस घटना को निजी विवाद करार दिया है।

नेहा के पिता ने कहा कि हत्या का मकसद यह है कि पीड़िता ने आरोपी के प्रेम प्रस्ताव को अस्वीकार कर दिया था। घटना होने से पहले हमारी आरोपी से बातचीत हुई थी, जहां हमने उसे समझाया था कि हम हिंदू हैं और आप मुस्लिम हैं, इसलिए हम आपको शादी करने की अनुमति नहीं दे सकते।

फैयाज के पिता को याद आया कि करीब आठ महीने पहले नेहा के परिवार ने उन्हें फोन कर बताया था कि उनका बेटा उनकी बेटी को परेशान कर रहा है। अपने बेटे की गलती मानते हुए उन्होंने कहा कि फैयाज और नेहा एक दूसरे से प्यार करते थे और रिलेशनशिप में थे।

उन्होंने कहा, “फयाज ने मुझसे कहा कि वह उससे शादी करना चाहता है लेकिन मैंने हाथ जोड़कर इनकार कर दिया।” फैयाज के पिता ने अपने बेटे की हरकत की निंदा करते हुए कहा कि किसी को भी महिलाओं के खिलाफ इस तरह का अत्याचार नहीं करना चाहिए।

फयाज के पिता ने हाथ जोड़कर रोते हुए कहा,”मैं कर्नाटक के लोगों से मुझे माफ करने का अनुरोध करता हूं। मेरे बेटे ने गलत किया है। उसे देश के कानून द्वारा दंडित किया जाएगा और मैं इसका स्वागत करता हूं। मेरे बेटे के कारण मेरे शहर पर काला धब्बा लगा है। मुनवल्ली (फयाज का गृहनगर) के लोग  कृपया मुझे क्षमा करें।”

हालांकि, पीड़ित परिवार की मांग है कि आरोपियों को फांसी की सजा दी जाए और तभी उनकी बेटी की आत्मा को शांति मिलेगी. उन्होंने कहा कि उनकी बेटी फैयाज के साथ रिश्ते में नहीं थी और आरोपी ने नेहा को चाकू मार दिया क्योंकि उसने उसके प्रस्ताव को अस्वीकार कर दिया था। 18 अप्रैल को हुई घटना के सिलसिले में गिरफ्तार फयाज को मौत की सजा देने की मांग को लेकर राज्य के कई हिस्सों में विरोध प्रदर्शन हुए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here