कमल हासन, विजय सेतुपति और फहाद फासिल का धमाल, अक्षय कुमार की बॉक्स ऑफिस साख का कड़ा इम्तिहान

1.4kViews

जून की तपती दोपहर में उत्तर से लेकर दक्षिण तक सिनेमा की सरगर्मी सबसे जोरों पर है। महीने के पहले शुक्रवार 3 जून को बॉक्स ऑफिस तीन बड़ी फिल्में रिलीज हो रही हैं और दिलचस्प ये है कि ये सभी फिल्में अखिल भारतीय स्तर पर अपनी मूल भाषाओं के अलावा अन्य भारतीय भाषाओं में भी रिलीज हो रही हैं। एक तरह से हिंदी, तमिल और तेलुगू का ये साल का सबसे बड़ा मुकाबला बन गया है और इन फिल्मों की गुरुवार शाम तक की एडवांस बुकिंग रिपोर्ट में कमल हासन का पलड़ा सबसे भारी नजर आ रहा है। शुक्रवार को ओटीटी पर बॉबी देओल की चर्चित वेब सीरीज ‘आश्रम’ का तीसरा सीजन भी रिलीज हो रहा है।

3 जून को रिलीज होने वाली फिल्मों में पूरे फिल्म जगत और फिल्म प्रशंसकों की निगाहें अक्षय कुमार की डॉ. चंद्र प्रकाश द्विवेदी निर्देशित फिल्म ‘सम्राट पृथ्वीराज’ पर टिकी है। ये फिल्म कुल 4950 स्क्रीन्स पर रिलीज हो रही है। इसमें घरेलू सिनेमाघरों में इसे हिंदी के लिए 3550 स्क्रीन्स और तमिल व तेलुगू के लिए 200 स्क्रीन्स मिले हैं। विदेश में ये फिल्म 1200 स्क्रीन्स पर रिलीज हो रही है। अक्षय की पिछली दो फिल्मों ‘बच्चन पांडे’ और ‘बेल बॉटम’ के बॉक्स ऑफिस पर सफल न हो पाने के चलते भी उनकी साख दांव पर लगी है

वहीं, तमिल सिनेमा के दिग्गज अभिनेता कमल हासन की विजय सेतुपति और फहाद फासिल के साथ बनी फिल्म ‘विक्रम’ का रुतबा अलग ही नजर आ रहा है। फिल्म ने हिंदी और तेलुगू में तो खास चमक नहीं दिखाई लेकिन फिल्म ने अपनी मूल भाषा तमिल में 10.70 करोड़ रुपये की एडवांस बुकिंग करके सबको हैरान कर दिया है। फिल्म के हिंदी संस्करण की एडवांस बुकिंग 25 लाख रुपये और तेलुगू संस्करण की एडवांस बुकिंग 60 लाख रुपये की होने की जानकारी गुरुवार शाम तक मिली है।

हिंदी और तेलुगू में एक साथ बनी अभिनेता अदिवि शेष की फिल्म ‘मेजर’ दो दिग्गज कलाकारों की फिल्मों के बीच फंसती नजर आ रही है। शुक्रवार को रिलीज हो रही तीनों फिल्मों में सबसे कम एडवांस बुकिंग इसी फिल्म की हुई है। फिल्म मलयालम में भी रिलीज हो रही है लेकिन इस भाषा में इसकी एडवांस बुकिंग नगण्य है।

बॉक्स ऑफिस पर इन तीन बड़ी फिल्मों की रिलीज के साथ ही बॉबी देओल की चर्चित वेब सीरीज ‘आश्रम’ का तीसरा सीजन भी शुक्रवार को रिलीज हो रहा है। सीरीज में इस बार बाबा निराला काशीपुर वाले और उसके चंगुल से भागी पम्मी पहलवान के बीच संघर्ष की कहानी आगे बढ़ रही है। इस दिन ओटीटी पर और कुछ खास ना होने का भी इस सीरीज को फायदा मिल सकता है। ‘आश्रम’ के पिछले दो सीजन ने इसके प्रसारित करने वाले ओटीटी एमएक्स प्लेयर को खासा फायदा पहुंचाया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here