सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर दो नवजात शिशुओं की मौत

1.6kViews
 फतेहाबाद

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर दो नवजात शिशुओं की मौत
स्टाफ नर्स पर सुविधा शुल्क बसूलने का आरोप
नवजात शिशु की मौत के बाद तीन घंटे बाद उपलब्ध हो सकी एम्बुलेंस
फतेहाबाद: आगरा स्टाफ नर्स की मनमानी बसूली करने तथा प्रसव को बिलंब होने के कारण सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र फतेहाबाद पर दो नवजात शिशुओं की मौत हो गई।पीडितो ने स्टाफ नर्स पर सुविधा शुल्क न देने पर प्रसव का काम बिलंब से करने का आरोप लगाया गया है।
केस नंबर एक भोजराज पुत्र बेनीराम निवासी पिनाहट आगरा अपनी पत्नी किरन को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र फतेहाबाद पर तीन बजे लेकर पहुंचा।जहां तैनात स्टाफ नर्स दिप्ती ने ढाई हजार रुपये सुविधा शुल्क की मांग की गई।भोजराज से ढाई हजार लेकर ही इलाज करने का आरोप भोजराज ने बताया कि मेरी पत्नी प्रसव पीडा से जूझ रही थी।वहीं स्टाफ नर्स इलाज का मोलभाव कर रही थी।
सुबह 3:45 पर पहले बच्चे ने जन्म हुआ तथा दूसरे ने 3:50 पर जन्म हुआ।पहले बच्चे की मौत हो गई।दूसरे बच्चे की तबीयत बिगड़ने पर एम्बुलेंस को काल किया गया।लेकिन एम्बुलेंस चार घंटे बिलंब से पहुंची।इसके बाद ही नवजात शिशु को आगरा अस्पताल भिजवाया जा सका।
केस नंबर दो जसराम निवासी पिन्नापुरा फतेहाबाद अपनी पत्नी कमलेश को लेकर पांचवें प्रसव कराने के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र फतेहाबाद पर सुबह 9बजे लेकर पहुंचा।जसराम का आरोप है कि स्टाफ नर्स ने 1500सौ रूपये प्रसव करने के लिए सुविधा शुल्क की मांग की गई।मेरे द्वारा कहा गया कि सरकारी अस्पताल मे प्रसव का कोई चार्ज नहीं लगता है।इस पर स्टाफ नर्स ने आगरा रेफर करने की धमकी दी गई।इस पर1500आशा अई और स्टाफ नर्स ने हाथ लगाया गया।वहीं डा.बी.के.सोनी अधीक्षक सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र फतेहाबाद ने बताया कि पिनाहट की महिला ने प्रसव के दौरान दो बच्चों को जन्म दि

सुशील कुमार गुप्ता

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here