Agra News: सैंपल की दवाओं के सिंडिकेट को तोड़ने की तैयारी, मोबाइल काल डिटेल से एमआर और दुकानदारों तक पहुंचेगी एसटीएफ

1.0kViews

आगरा

आगरा में सैंपल की दवाओं के सिंडिकेट की आगरा में जड़ें गहरी हैं। मेडिकल रिप्रजेंटेटिव(एमआर), हाकर और दुकानदारों के गठजोड़ से चल रहे इस काले कारोबार पर अब एसटीएफ की नजर है। गोदाम संचालक को जेल भेजने के बाद अब एसटीएफ इस कारोबार से जुड़े लोगों के बारे में जानकारी जुटा रही है। इसके लिए मोबाइल की काल डिटेल के साथ ही सर्विलांस का भी सहारा लिया जा रहा है।

एसटीएफ की टीम ने ताजगंज क्षेत्र के बाग खिन्नी महल और शमसाबाद रोड पर स्थित कालोनी में छापा मारकर दो अवैध दवा गोदाम पकड़े थे। इनमें लाखों रुपये की सैंपल की दवाएं भरी मिली थीं। औषधि विभाग की टीम ने दवाओं की जांच की। यहां विभिन्न प्रकार की सैंपल की दवाएं मिलीं।

गोदाम संचालक पिनाहट निवासी सोनू अग्रवाल को दूसरे दिन एसटीएफ ने जेल भेज दिया। ताजगंज थाने में इस मामले में मुकदमा दर्ज कराया गया। इसमें एमआर और हाकर भी शामिल हैं। इस नेटवर्क से जुड़े कई लोगों के घर एसटीएफ ने दबिश दी। इसके बाद इस कारोबार में लगे लोगों में खलबली मच गई।

शनिवार को छत्ता क्षेत्र के सिंगी गली के पास एक प्लाट में बड़ी मात्रा में सैंपल की दवाएं पड़ी मिलीं। एसटीएफ सोनू अग्रवाल के मोबाइल की काल डिटेल की स्टडी कर रही है। उसके संपर्क में रहने वाले हाकर, एमआर और दवा विक्रेताओं से भी पूछताछ की जाएगी। एसटीएफ के इंस्पेक्टर हुकुम सिंह ने बताया कि सभी बिंदुओं पर जांच चल रही है। जल्द ही इसमें कुछ और लोगों की गिरफ्तारी की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here