मथुरा: सीवर टैंक की सफाई करने उतरे पुत्र की दम घुटने से मौत, पिता की हालत गंभीर, अस्पताल में भर्ती

1.2kViews
 पिता-पुत्र गांव के ही एक व्यक्ति के मकान में बने सीवर टैंक की सफाई करने गए थे। टैंक छोटा होने के कारण युवक उसमें फंस गया, जिससे दम घुटने से उसकी मौत हो गई।

मथुरा के कोसीकलां थाना क्षेत्र में मंगलवार की रात गांव बठैनकलां में सीवर टैंक की सफाई करने उतरे युवक की मौत हो गई। पुत्र को बचाने टैंक में उतरे पिता की हालत गंभीर है। उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। युवक की मौत का कारण जहरीली गैस के कारण दम घुटना बताया गया है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। हादसे के बाद मृतक के परिवार में कोहराम मचा हुआ है।

जानकारी के मुताबिक गांव बठैनकलां में चंचल और मुकेश के मकान में बने सीवर टैंक की सफाई होनी थी। चंचल ने गांव के रहने वाले वाल्मीकि समाज के सुरेंद्र और उसके पुत्र ऋतिक को सफाई कराने के लिए बुलाया था। मंगलवार की रात सुरेंद्र ने अपने पुत्र ऋतिक को सफाई कराने के लिए सीवर टैंक में उतार दिया।

बताते हैं कि टैंक छोटा होने के कारण ऋतिक उसमें फंस गया और जहरीली गैस से उसका दम घुट गया। ऋतिक के टैंक में फंसने के बाद उसकी मदद को पिता सुरेंद्र भी उतर गया तो उसका भी दम घुटने लगा। इससे मौके पर मौजूद लोगों में हड़कंप मच गया। घटना की सूचना मिलते ही गांव में रहने वाले वाल्मीकि समाज के लोग घटनास्थल पर पहुंच गए।

समाज के लोग टैंक के अंदर फंसे पिता-पुत्र को निकालने में जुट गए। घटना के बाद मकान स्वामी चंचल और मुकेश भाग गए। सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस के पहुंचने के बाद लोगों ने कड़ी मशक्कत के बाद टैंक में फंसे पिता-पुत्र को बाहर निकाला। तब तक ऋतिक की मौत हो चुकी थी। उसका पिता बेहोश था।

पुलिस ने मृतक के पिता सुरेंद्र को गंभीर हालत में उपचार के लिए जिला अस्पताल भेज दिया। ऋतिक के शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। थाना प्रभारी निरीक्षक संजय त्यागी ने बताया कि युवक टैंक की सफाई करने उतरा था। इसी दौरान उसकी मौत हो गई। इस संबंध में अभी कोई तहरीर नहीं मिली है। तहरीर मिलेगी तो कार्रवाई की जाएगी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here